Vishwa Shanti Gyan-Dhyan Yog 25 Dec. 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

ओम आनंदम
25 दिसंबर 2018 को नेचुरोपैथी एवं ध्यान योग आश्रम गाँव झुंडपुर सोनीपत में
आनंदमय जीवन धारा का वार्षिक आनंद उत्सव बड़ी धूम-धाम से मनाया गया| इस आनंद उत्सव पर विश्व शांति ज्ञान ध्यान योग का आयोजन हुआ इस विराट सम्मलेन में काफी साधकों व मित्रों ने भाग लिया ।
विश्व शांति ज्ञान ध्यान योग का शुभारम्भ मोहन लाल बडोली (व्यापार कल्याण बोर्ड के सदस्य), श्रीमती अनीता जी (धर्मपत्नी श्री देवेन्द्र कुमार जंगला सेशन जज दिल्ली), कर्नल मान सिंह जी, आचार्य हरि भारद्वाज जी (साहित्य लेखक), संतोष कुमार गुप्ता जी, डाक्टर विजय आनंद जी ने दीप प्रज्वलन करके किया| परम आनंद मैत्रेय जी ने विश्व शांति हेतु बहुत ही सुंदर वक्तव्य दिए साथ ही ध्यान भी कराया| मंच संचालन का कार्य माँ नरेश चक्रवर्ती जी ने संभाला|
अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहे प्रेम मैत्री से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी ने उत्सव मानते हुए प्रसाद (भंडारा) ग्रहण कर प्रस्थान किया | भंडारे के उपरांत प्रकाश फोम एण्ड फर्नीचर तथा आनंदम नेचुरोपथी की और से लकी ड्रा निकला गया| आये हुए सभी साधकों व मित्रों को इस महा सम्मलेन में बहुत ही आनंद आया|
इस महासम्मेलन की व्यवस्था में मैत्रेय सेवा संघ के सभी सदस्यों का बहुत बडा योगदान रहा।
ओम आनंदम

इस कार्यकम की सभी फोटो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें  

Anand Dhyan Yog 2 Dec. 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

🙏ओम आनंदम🙏
२ दिसंबर २०१८ को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम में १ दिवसीय निशुल्क आनंद ध्यान योग लेवल १ आयोजन हुआ। इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया।
विषय - सत्य की खोज?
इस विषय पर परम मैत्रेय जी ने प्रकाश डाला। साथ ही ध्यान भी कराए। आय हुए मित्रों व साधकों को आज के विषय को जानकर साथ ही ध्यान करके बहुत सहजता से उत्तर दिया।
अंतिम में स्वामीजी जो संदेश देते हैं कि संसार में रहें सुख शांति प्रेम मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएं।
इसी सूत्र के साथ सभी ने उत्सव मानते हुए प्रस्थान किया।
🙏ओम आनंदम🙏

Kuber Sadhan Dhyan Shivir 4 Nov. 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

नवम्बर २०१८ को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम गांव झुंडपुर सोनीपत में निशुल्क ७ स्टेप मेडिटेशन (कुण्डलिनी शक्ति) प्रातः १० बजे से दोपहर २ बजे तक के शिविर का आयोजन हुआ ।
आए हुए साधकों व मित्रों ने इस शिविर का लाभ लिया।
परम आनंद मैत्रेय जी ने ७ चक्रों के विषय पर प्रकाश डाला। सभी ने ध्यान किया और अपने अनुभव भी व्यक्ति किए।
अंतिम में स्वामीजी को संदेश देते हैं कि संसार में रहे प्रेम मेत्री आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएं इसी सूत्र के साथ उत्सव मनाते हुए सभी ने प्रस्थान किया।
🙏ओम आनंदम🙏

Kuber Sadhan Dhyan Shivir 4 Nov. 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

४ नवम्बर २०१८ को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम गांव झुंडपुर सोनीपत में ♦दीपावली पर्व पर कुबेर साधना ध्यान शिविर का आयोजन हुआ।
शिविर में काफी मित्र व साधकों ने भाग लिया।
परम आनंद मैत्रेय जी ने कुबेर से जुड़ी तथा अध्यात्म से सबंधित जानकारी साधकों को दी व ध्यान भी कराए।
साधकों मित्रों को बहुत ही आनंद आया।
सभी ने दीप जलाकर दीपावली भी मनाई और अंतिम में स्वामी जी जो सूत्र देते हैं कि संसार में रहे सुख शांति प्रेम मैत्री से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएं इसी सूत्रा के साथ उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया।

Anand Dhyan Yog 23 Sep 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

२३ सितम्बर को आनंदमय जीवन धारा प्रांगण में बैंक के रिटायर्ड अफसर व उनके परिवार के सदस्य ध्यान करने तथा नेचुरोपैथी लेने हेतु पहुंचे। इन सभी मित्रों आनंदमय जीवन धारा में आने हेतु सतीश चनना जी ने प्रेरित किया।
उनके लिए आनंदमय जीवन धारा की ओर से निशुल्क १ दिवसीय आनन्द ध्यान योग प्रातः १० बजे। से सायं ५ बजे तक आयोजन किया गया।
ध्यान में प्रीतिकर अनुभूति मिलने पर सभी को बहुत ही आनंद आया। ब्रेक टाइम में उपस्थित मित्रों ने नेचुरोपैथी का लाभ उठाया तथा संगीत का आनंद लिया। सभी ने अपनी अपनी प्रस्तुति दी।
तथा अन्तिम मे साधको ने परम मैत्रेय जी से बहुत से प्रश्न पूछे जीन का आनंद मैत्रेय जी ने बड़ी सरलता से उत्तर दिया। ओर सभी को सन्देश दिया ससांर मे रहे सुख-शांति, प्रेम, मैत्री, आनंद और उत्सव से और जैसे ही समय मिले तो ध्यान मे चले जायें ।
ओम आनंदम

Param Dhyan Yog Part 1 & Naturopathy 20 June to 24 June 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

        आज 19 अगस्त 2018 को आनंदमय जीवन धारा गांव झुंडपुर, सोनीपत में निशुल्क नेचरोपैथी एवम् पॉवर रेकी मेडिटेशन कैंप लेवल १ का आयोजन हुआ । दिल्ली, हरियाणा, उत्तरप्रदेश व अन्य स्थानों से काफी मित्र व साधक इस शिविर में पहुंचे।
परम आनंद मैत्रेय जी ने नेचुरोपैथी के विषय में प्रकाश डाला और स्वास्थ्य एवम् अध्यात्मिक जागरूकता मिशन के तहत सभी के स्वास्थ्य के लिए ध्यान भी कराया। इसके अलावा आगंतुक साधक वा मित्रों ने रेकी का लाभ भी लिया।
ध्यान में सभी को बहुत प्रीतिकर अनुभव हुए। ध्यान के बाद साधकों व मित्रों ने अपने अनुभव व्यक्त किए।
अंतिम में स्वामीजी जो संदेश देते हैं कि संसार में रहें प्रेम, मैत्री, आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएं। इसी सूत्र के साथ सभी साधकों ने आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया💐💐💐
🙏ओम आनंदम🙏

Param Dhyan Yog Part 1 & Naturopathy 20 June to 24 June 2018 Vill. Jundpur, Sonipat

      आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी दे सानिध्य में 🔸परम ध्यान योग पार्ट १ एवम् प्राकृतिक चिकित्सा 🔸 पांच दिवसीय आवासीय शिवर का २४ जून २०१८ को समापन रहा| इस शिविर में काफी मित्रों व् साधकों ने भाग लिया| इस शिविर में नेचुरोपैथी के साथ साथ ध्यान योग के लेवल १, २ एवम् ३ का लाभ लिया। परम आनंद मैत्रेय जी ने प्राकृतिक चिकित्सा के विषय पर बड़ी ही सहजता से प्रकाश डाला और ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया, साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ |
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Sahaj Dhyan Yog & Tour 7 June to 10 June 2018 Chakrata Uttarakhand

       आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत द्वारा सहज ध्यान योग एवं टूर "चकराता (उत्तराखंड)" के लिए टूर का आयोजन किया गया| इस टूर में सहज ध्यान योग सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी के सानिध्य में हुआ| इस आयोजन का मित्रों व साधकों ने बहुत आनंद लिया| प्रकृति की गोद में ध्यान का आनंद और प्राकृतिक मनोरम दृश्यों का आनंद प्राप्त किया| 

साधकों को प्रकृति की गोद में ध्यान के जो अनुभव हुए वे शब्दों में नहीं बताये जा सकते| ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया, साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ |
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Power Reiki Meditation Camp 3 June 2018 Prashant Vihar, Delhi

       3 जून 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत द्वारा अग्रवाल भवन, बी ब्लाक, प्रशांत विहार, दिल्ली में सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी दे सानिध्य में 🔸पॉवर रेकी मेडिटेशन कैंप🔸 लेवल 1 एक दिवसीय शिविर का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व् साधकों ने भाग लिया| परम आनंद मैत्रेय जी ने रेकी के विषय पर बड़ी ही सहजता से प्रकाश डाला, जिसे जानकार उपस्थित साधकों व मित्रों को बहुत ही आनंद प्राप्त हुआ| मैत्रेय जी ने उपस्थित मित्रों व साधकों को ध्यान भी कराया| ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया, साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ |
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Anand Dhyan Yog Level 1 (Part 2) 27 May 2018 Jhundpur Ashram

        27 मई 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में 🔸आनंद ध्यान योग 🔸 लेवल 1 (पार्ट 2) एक दिवसीय शिविर का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| तथा आनंदम नेचुरोपैथी में चल रहे 5 दिवसीय आवासीय प्राकृतिक चिकित्सा एवं ध्यान योग शिविर में आये हुए मित्र भी चिकित्सा उपरांत इस ध्यान योग शिविर में सम्मिलित हुए।ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया, साधक बहुत ही प्रसन्न हुए, और 3 जून 2018 को प्रशांत विहार, दिल्ली में होने वाले पॉवर रेकी मैडिटेशन कैंप के लिए काफी मित्रों ने रजिस्ट्रेशन भी कराये| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

anandam Naturopathy & Ayurveda Udghatan 18 March 2018

                   18 मार्च 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर सोनीपत में परम आनंद मैत्रेय के ज्ञान दिवस (संबोधि) पर भव्य वार्षिकोत्सव एवं आनंदम नेचुरोपेथी एवं आयुर्वेद का उद्घाटन समारोह हुआ इस समारोह में काफी मित्र सम्मिलित हुए, महोत्सव का मंच संचालन माँ पूनम जी व माँ नरेश चक्रवर्ती जी ने किया| इस महोत्सव में बहुत से गणमान्य व्यक्ति युगल दंपत्ति श्रीमती रीटा अग्रवाल एवं श्री सतीश कुमार अग्रवाल, श्री प्रमोद गोयल, श्री देवेन्द्र कुमार जंगाला, श्री सतीश कुमार, स्वामी मूलचंद जैन , आचार्य हरी भारद्वाज, श्री राजेंद्र प्रसाद सिंघल, श्री रेंशी राजकुमार मेनारिया, डॉ. राकेश डबास डॉ. विजय आनंद, डॉ. ज़फर, डॉ. सुरेश, डॉ. नितिन, डॉ. वसुंधरा उपस्थित थे । परम मैत्रेय जी के ज्ञान दिवस पर सभी मित्रों ने उत्सव मनाया व श्री सोमप्रकाश जी, श्री सुनील सूदन जी, मीरा जी व पवन जी द्वारा भजनों का आनंद प्राप्त हुआ और पधारे हुए गणमान्य अतिथियों ने उपस्थित मित्रों के लिए नेचुरोपैथी के विषय पर सुंदर वक्तव्य दिए । आनंदम नेच्यूरोपैथी एवं आयुर्वेद का उद्घाटन युगल दम्पत्ति रीटा अग्रवाल एवं सतीश कुमार अग्रवाल के द्वारा हुआ। अंतिम में सभी मित्र उत्सव मनाते हुए और प्रसाद प्राप्त करके प्रस्थान किया । ओम आनंदम

Anand Dhyan Yog 11 March 2018

                    11 मार्च 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में 🔸आनंद ध्यान योग 🔸 लेवल 1 का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| ध्यान में मित्रों व साधकों को काफी अनुभव हुए| ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| अंतिम सत्र में मैत्रेय सेवा संघ की मीटिंग हुई जिसमें जल्द खुलने वाले आनंदम नेचुरोपैथी एवं आयुर्वेदा के विषय पर रही, जिसका 18 मार्च रविवार को दोपहर 3 बजे से भव्य उद्घाटन रहेगा और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Past Life Regresstion 25 Feb. 2018

                    25 फरवरी 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में  "पास्ट लाइफ रिग्रेशन मेडिटेशन केम्प" का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| ध्यान के माध्यम से साधक मित्र पास्ट लाइफ में जा सके और उन्हें काफी अनुभव हुए| ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| अंतिम सत्र में मैत्रेय सेवा संघ व लेवल 2 कर चुके साधकों की मीटिंग हुई । और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Power Reiki Meditation Camp & Naturopathy, Ayurveda, Yoga 11 Feb. 2018

                    11 फरवरी 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में "पॉवर रैकी मेडिटेशन कैम्प एवं नेच्युरोपैथी, आयुर्वेदा,योगा” (लेवल 1) का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| शीघ्र ही खुलने वाली आनंदम नेच्यूरोपैथी एवं आयुर्वेदा के डॉ. जफ़र जी, डॉ. सुरेश जी, डॉ. नितिन जी, डॉ. वसुन्धरा जी एवं योगा ट्रेनर शिवानी जी का सभी साधकों व मित्रों से परिचय कराया, शिवानी जी ने योग कराया व अन्य डॉक्टर्स ने सभी को नेच्यूरोपैथी व् आयुर्वेद के विषय पर प्रकाश डाला तथा कुछ मित्रों के शारीरिक पीड़ा का उपचार भी किया। परम मैत्रेय जी ने साधकों को पावर रैकी ध्यान कराया| जिसमें साधकों को बहुत आनंद आया । और साधकों ने अपने अपने अनुभव शेयर किए । शिविर के अंतिम में स्वामीजी सभी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏 www.anandmay.in

Ashtang Yog 28 Jan. 2018

                    28 जनवरी 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में “अष्टांग योग ” (लेवल 1) शिविर का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने साधकों को ध्यान कराया| जिसमें साधकों को बहुत आनंद आया । और साधकों ने अपने अपने अनुभव शेयर किए । परम मैत्रेय जी ने महर्षि पतंजलि के बताये अष्टांग योग के विषय पर प्रकाश डाला । साधकों को अष्टांग योग के सूत्र को जानकर बहुत ही प्रसन्नता हुई । जल्द खुलने वाली आनंदम नेच्यूरोपैथी के डॉक्टर सुरेश जी का सभी साधकों व मित्रों से परिचय हुआ, व उन्होंने नेच्यूरोपैथी एवं आयुर्वेद के विषय पर प्रकाश डाला और आये हुए साधकों का नेचुरोपैथी सम्बन्धी प्रकृति टेस्ट भी लिया। शिविर के अंतिम में स्वामीजी सभी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏 www.anandmay.in

Anand Dhyan Yog 14 Jan. 2018

                    14 जनवरी 2018 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में “आनंद ध्यान योग ” (लेवल 1) शिविर का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने साधकों को ध्यान कराया| जिसमें साधकों को बहुत आनंद आया । और साधकों ने अपने अपने अनुभव शेयर किए । ध्यान के बाद अंतिम सत्र में परम माँ भावना जी का जन्मोत्सव मनाया| माँ भावना जी के जन्मोत्सव के शुभ अवसर पर आनंदमय जीवन पत्रक का शुभारंभ हुआ। जल्द खुलने वाली आनंदम नेच्यूरोपैथी के डॉक्टर जफर जी व डॉक्टर सुरेश जी का सभी साधकों व मित्रों से परिचय हुआ, व उन्होंने नेच्यूरोपैथी एवं आयुर्वेद के विषय पर प्रकाश डाला। शिविर के अंतिम में स्वामीजी सभी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏 www.anandmay.in

New Year Celebration& Krodh Mukti Dhyan 31 Dec. 2017

                    31 दिसम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में “न्यू इयर सेलिब्रेशन एवं क्रोध मुक्ति ध्यान” शिविर का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने साधकों को क्रोध मुक्ति ध्यान कराया| और साधकों ने एवं बच्चों ने न्यू इयर सेलीब्रेट किया जिसमें साधकों के साथ साथ बच्चों ने भी कविता नृत्य आदि से उत्सव मनाया| अंतिम में स्वामीजी सभी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏

Sahaj Moun Vipashyana Dhyan 24-25 Dec. 2017

                        24-25 दिसम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में दो दिवसीय आवासीय शिविर “सहज मौन विपश्यना ध्यान” हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने साधकों को मौन के विषय में समझाया जिससे साधक बहुत सहजता से सहज मौन ध्यान में प्रवेश सके| अंतिम सत्र में मैत्री ध्यान कराया| इन दो दिनों में साधकों को अलग अलग तरह की अनुभूतियाँ हुईं, और सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी को धन्यवाद दिया और यीशु को याद करते हुए प्रेम और सेवा के भाव के साथ क्रिशमश उत्सव भी मनाया | अंतिम में स्वामीजी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏

Parivarik Anandit Jeevan Level-1 Free Camp 26 Nov. 2017

                        26 नवम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में पारिवारिक आनंदित जीवन ध्यान योग का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने परिवार में आने वाली समस्याओं के विषय पर प्रकाश डाला और ध्यान भी कराया ध्यान के पश्चात् मित्रों व साधकों को आनंद आया और अनुभव भी हुए| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ| इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया |
🙏 ओम आनंदम 🙏

Onkar Dhyan Yog Level-2 2days residantial camp 18,19 Nov. 2017

                        18, 19 नवम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में दो दिवसीय आवासीय शिविर “ओंकार ध्यान योग” (लेवल 2) हुआ] इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने साधकों को ओंकार से जुड़ने से पहले जो मानव की दुःख, सुख और आनंद की घटना जो कि हर मनुष्य के साथ होती है, उन क्षणों को ध्यान द्वारा याद कराया, जिससे साधक बहुत सहजता से ओंकार से जुड़ सके| अंतिम सत्र में परमात्मा के विषय पर प्रकाश डाला, और ओम चक्रमण ध्यान कराया, दुःख सुख ध्यान करके साधकों ने अपने अतीत की दुखद घटना और सुखद घटना को अपने अंतरतम से बाहर निकाल दिया, मैत्रेय जी का कहना है की दुःख हो या सुख ये बाहर की चीजें हैं इन्हें अन्दर नहीं संजोना है] आपके अंतरतम जो परमात्मा की पदचाप ही, जो ओंकार की ध्वनि निरंतर बजती रहती है, उसके आनंद में डूबना है, क्योंकि आनंद ही सभी के अंतरतम में है, बस उसी में डूबना है| और साधकों ने ध्यान के बाद पाया की वास्तव में दुःख और सुख तो कुछ है ही नहीं, बस आनंद ही आनंद है, इन दो दिनों में साधकों को अलग अलग तरह की अनुभूतियाँ हुईं, और परमात्मा से मिलन मानाने पर सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी को धन्यवाद दिया और साधकों ने मैत्रेय जी से साधना के विषय में प्रश्न किये कि घर पर किस तरह साधना करें जिससे हम इस आनंद में रहें| और स्वामीजी सभी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏

Past Life Regression Meditation Camp 12 Nov. 2017

                        12 नवम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में 🔸 पास्ट लाइफ रिग्रेशन मेडिटेशन केम्प 🔸 का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| ध्यान के माध्यम से साधक मित्र पास्ट लाइफ में जा सके और उन्हें काफी अनुभव हुए| ध्यान के पश्चात साधक मित्रों ने अपने अपने अनुभव शेयर किये व प्रश्न भी किये उनका परम आनंद मैत्रेय जी ने सहजता से उत्तर दिया| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Naturopaithy & Poewr Reiki Meditation Camp 29 Oct. 2017

                    29 अक्टूबर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में 🔸 नेच्युरोपैथी एवं पॉवर रेकी मेडिटेशन केम्प 🔸 का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| नेच्युरोपैथी का सेशन डाक्टर मधु गुप्ता जी ने लिया उन्होंने सभी मित्रों को प्राकृतिक चिकित्सा के विषय में बहुत ही सरलता से समझाया की किस प्रकार रोग उत्पन्न होते हैं और किस प्रकार हम बिना किसी डाक्टर के स्वयं ही स्वस्थ हो सकते हैं और परम आनंद मैत्रेय जी ने उपस्थित मित्रों व साधकों के लिए पॉवर रेकी द्वारा उपचार किया और ध्यान भी कराया और समझाया कि आप सभी किस प्रकार रेकी द्वारा स्वयं का व औरों का भी उपचार कर सकते हैं| ध्यान के पश्चात् मित्रों व साधकों को बहुत ही आनंद आया और अनुभव भी हुए| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Sahaj Moun Vipashyana Dhyan Shicvir 15 Oct. 2017

                      15 अक्टूबर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में सहज मौन विपश्यना ध्यान एवं कुबेर साधना ध्यान का आयोजन हुआ|
इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने मौन के विषय में सभी साधकों को बहुत ही सरलता से समझाया और मौन ध्यान भी कराया ध्यान के पश्चात् मित्रों व साधकों को आनंद आया और अनुभव भी हुए| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए|
और दीपावली के शुभ अवसर पर सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी ने दीप प्रज्वलन किया और कुबेर साधना के विषय पर भी प्रकाश डाला| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ| इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया |
ओम आनंदम

Sadguru Param Anand Maitrey Janmotsav 2 Oct. 2017

                      आज 2 अक्टूबर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में 🔸 सदगुरु परम आनंद मैत्रेय🔸 जी के जन्मदिन पर यज्ञ चिकित्सा एवं ध्यान महोत्सव का आयोजन हुआ| इस शिविर में काफी मित्रों व साधकों ने भाग लिया| आज के शिविर का मंच संचालन माँ नरेश चक्रवर्ती जी ने किया | आज का विषय "समाज में सही अध्यात्म की स्थापना कैसे हो ? इस विषय पर आचार्यों एवं उपस्थित साधक मित्रों ने अपने अपने विचार रखे और स्वामी जी से प्रश्न भी किये और परम मैत्रेय जी ने सभी साधकों को बहुत ही सरलता से समझाया और ध्यान भी कराया ध्यान के पश्चात् मित्रों व साधकों को बहुत ही आनंद आया और अनुभव भी हुए| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| आज इस शुभ दिन पर आनंदम नेच्युरोपैथी की नींव रखी गई | जिससे साधकों को प्राकृतिक चिकित्सा के द्वारा स्वास्थ्य लाभ प्राप्त हो सके| और अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते हैं कि संसार में रहें सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए और प्रसाद लेते हुए प्रस्थान किया | 🙏ओम आनंदम🙏

Aatm Research Meditation Camp 24 Sep. 2017

                          24 सितम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में एक दिवसीय शिविर 🔸आत्म रिसर्च मेडिटेशन🔸 का आयोजन हुआ|
इस शिवर में काफी मित्रों ने भाग लिया, परम मैत्रेय जी ने ध्यान के माध्यम से साधकों को अपने अन्दर छिपी हुई सकारात्मक ऊर्जा के बारे में समझाया, जो हम सभी के पास है पर अनभिज्ञ हैं | ध्यान के पश्चात् मित्रों व साधकों को बहुत ही आनंद आया और अनुभव भी हुए| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए| अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते है
🔸संसार में रहे सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए और ज्ञान यज्ञ में आहुति देते हुए प्रस्थान किया|
🙏ओम आनंदम🙏

Monsoon Festival Meditation Camp 3 Sep. 2017

                           3 सितम्बर 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में एक दिवसीय शिविर 🔸मानसून फेस्टिवल मेडिटेशन🔸 का आयोजन हुआ| इस शिवर में काफी मित्रों ने भाग लिया, परम मैत्रेय जी ने आध्यात्म का सत्य क्या? इस विषय पर प्रकाश डाला और ध्यान भी कराये| और जो कार्यक्रम का शीर्षक ♦मानसून फेस्टीवल मेडिटेशन♦ इस विषय को भी समझाया कि हमारे मन में अहंकार के बादल हैं, उन्हें आज ध्यान के माध्यम से बरस जाने दें, खाली कर दें| ध्यान के पश्चात् मित्रों व साधकों को बहुत ही आनंद आया और अनुभव भी हुए| साधक बहुत ही प्रसन्न हुए|
                             🌹जो ध्यान सेवा कार्य चल रहा है जिससे ध्यान जन जन तक पहुँच सके उसके लिए स्वामी जी ने नरेश चावला जी व उनकी धर्मपत्नी दीपा चावला जी को नव रत्न पद से सम्मानित किया🌹 इन मित्रों ने काफी मित्रों को ध्यान से जोड़ा, अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते है 🔸संसार में रहे सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ 🔸 
🌹इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए और ज्ञान यज्ञ में आहुति देते हुए प्रस्थान किया|
🙏ओम आनंदम🙏

एक दिवसीय विशेष शिविर “ध्यान व समाधी में शंका समाधान हेतु”

                          🌹13 अगस्त 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में 🔸ध्यान व समाधी में शंका समाधान हेतु 🔸 एक दिवसीय विशेष शिविर का आयोजन हुआ
इस शिवर में काफी साधको ने भाग लिया उपस्थित साधकों ने अपनी अपनी शंका सद्गुरु परम आनंद मैत्रेय जी के सम्मुख व्यक्त की और जो समास्या समाधी में आती उनके बारे में भी बताया, मैत्रेय जी ने सभी की समस्याओं का समाधान बताया और सभी शंकाओं का निवारण भी किया, साथ में ध्यान भी कराये जिससे साधकों को बहुत ही आनंद आया, आश्रम के नव निर्माण के लिए साधकों ने दान दिया, और जन्मास्टमी उत्सव भी मनाया, अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते है संसार में रहे सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏

बजाज मोटर्स लिमिटेड, नरसिंगपुर गुडगाँव में “आनंद ध्यान योग” का आयोजन

                          आनंदमय जीवन धारा की ओर से बजाज मोटर्स लिमिटेड, नरसिंगपुर गुडगाँव में एक बार फिर से आचार्य कृष्ण मैत्रेय जी के सहयोग से “आनंद ध्यान योग” का आयोजन 19 अगस्त 2017 को दोपहर 3 बजे से सायं 5 बजे तक हुआ| यह ध्यान योग शिविर चेयरमेन वी.पी. बजाज जी ने अपने स्टाफ के लिए आयोजित कराया| जिससे उनके अन्दर मेडिटेशन के प्रति रूचि बढ़ सके| वहां उपस्थित मित्रों को परम आनंद मैत्रेय जी ने उन समस्याओं के विषय में बहुत ही गहरे से समझाया जो कार्यक्षेत्र में कार्य करने में परेशानियाँ आती रहती हैं उनसे किस प्रकार से निकल सकें| इन विषयों पर जोर देते हुए परम आनंद मैत्रेय जी सभी को ध्यान में ले गए| ध्यान से उठने के बाद सभी ने स्वामी जी का आभार प्रगट किया और अपने अनुभव के बारे में भी बताया| सभी बहुत ही आनंदित हो गए थे| अंतिम में मैत्रेय जी ने छोटी छोटी विधियाँ भी बताई जिन्हें समय निकाल कर अवश्य करें क्योंकि हमारा शरीर ही सबसे बड़ा धन है| अन्तिम में चेयरमेन साहब ने स्वामीजी व माँ जी को धन्यवाद दिया और कंपनी की HR दीपशिखा जी ने आगे भी आश्वासन दिया कि स्टाफ के लिए ऐसे कार्यक्रम करते रहेंगे जिससे ध्यान योग जन जन तक पहुंचे  || ओम आनंदम ||

डिवाईन म्यूजिकल मेडिटेशन का आयोजन ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में

                         🌹30 जुलाई 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में एक दिवसीय शिविर 🔸डिवाईन म्यूजिकल मेडिटेशन🔸 का आयोजन हुआ
इस शिवर में काफी मित्रों ने भाग लिया, परम मैत्रेय जी ने संगीत के द्वारा सभी को ध्यान कराए और समझाया की कभी भी अशांत हों टेंशन में हों तो जो संगीत रुचिकर लगता है उसे सुने और उसमे डूब जाएँ, और शारीरिक स्वास्थ्य से सम्बंधित राग ध्यान भी कराया | ध्यान में साधकों को बहुत ही आनंद आया, आश्रम के नव निर्माण के लिए मेप बना इस ब्लू प्रिंट का अनावरण परम माँ भावना जी द्वारा हुआ, और आश्रम निर्माण हेतु मित्रों ने दान दिया, और जो ध्यान सेवा कार्य चल रहा है जिससे ध्यान जन जन तक पहुँच सके उसके लिए स्वामी जी ने स्वामी तरुण जी को आनंद रत्न से और गंगा जी, मंजू जी, रमन शर्मा जी और के.एल. गुप्ता जी को नव रत्न पद से सम्मानित किया, इन मित्रों ने काफी मित्रों को ध्यान से जोड़ा, अंतिम में स्वामी जी जो सन्देश देते है संसार में रहे सुख, शांति, प्रेम, मैत्री और आनंद से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए और ज्ञान यज्ञ में आहुति देते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏

दो दिवसीय शिविर “ओंकार ध्यान योग” (लेवल 2) 22 & 23 जुलाई 2017 का शुभारम्भ

                        आज 22 जुलाई 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में दो दिवसीय शिविर “ओंकार ध्यान योग” (लेवल 2)  22 & 23 जुलाई 2017  का शुभारम्भ हुआ]   इस शिविर में काफी मित्रों ने भाग लिया| परम मैत्रेय जी ने साधकों को ओंकार से जुड़ने से पहले आज प्रथम दिन पर जो मानव की दुःख, सुख और आनंद की घटना जो कि हर मनुष्य के साथ होती है, उन क्षणों को ध्यान द्वारा याद कराया, जिससे साधक बहुत सहजता से ओंकार से जुड़ सके| अंतिम सत्र में परमात्मा के विषय पर प्रकाश डाला, और ओम चक्रमण ध्यान कराया, दुःख सुख ध्यान करके साधकों ने अपने अतीत की दुखद घटना और सुखद घटना को अपने अंतरतम से बाहर निकाल दिया, मैत्रेय जी का कहना है की दुःख हो या सुख ये बाहर की चीजें हैं इन्हें अन्दर नहीं संजोना है] आपके अंतरतम जो परमात्मा की पदचाप ही, जो ओंकार की ध्वनि निरंतर बजती रहती है, उसके आनंद में डूबना है, क्योंकि आनंद ही सभी के अंतरतम में है, बस उसी में डूबना है| और साधकों ने ध्यान के बाद पाया की वास्तव में दुःख और सुख तो कुछ है ही नहीं, बस आनंद ही आनंद है, और द्वितीय दिवस के लिए बहुत उत्सुकता साधकों के अन्दर कि कल हम उस ओंकार को सुन सकेंगे, उस परमात्मा से मिलन मना सकेंगें, इसी आनंद में साधकों ने उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया  || ओम आनंदम ||

दो दिवसीय शिविर “ओंकार ध्यान योग” (लेवल 2) 22 & 23 जुलाई 2017 का समापन

                        🌹23 जुलाई 2017 को आनंदमय जीवन धारा ध्यान योग आश्रम ग्राम झुंडपुर, सोनीपत में दो दिवसीय शिविर 🔸ओंकार ध्यान योग🔸 (लेवल 2) 22 & 23 जुलाई 2017 का समापन रहा| इन दो दिनों में साधकों को अलग अलग तरह की अनुभूतियाँ हुईं, और परमात्मा से मिलन मानाने पर सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी को धन्यवाद दिया और साधकों ने मैत्रेय जी से साधना के विषय में प्रश्न किये कि घर पर किस तरह साधना करें जिससे हम इस आनंद में रहें| और स्वामीजी सभी जो सन्देश देते है कि संसार में रहें प्रेम, शांति, मैत्री, आनन्द से और जब भी समय मिले ध्यान में चले जाएँ इसी सूत्र के साथ सभी साधको ने सदगुरु परम आनंद मैत्रेय एवं परम माँ भावना जी से आशीर्वाद लेते हुए और उत्सव मनाते हुए प्रस्थान किया|
🙏 ओम आनंदम 🙏